सरकार ने लिया शीतकालीन सत्र न बुलाने का फैसला तो उर्मिला मातोंडकर बोलीं- देश खुल चुका है सिवाय संसद के, जहां…

सरकार ने लिया शीतकालीन सत्र न बुलाने का फैसला तो उर्मिला मातोंडकर बोलीं- देश खुल चुका है सिवाय संसद के, जहां...

उर्मिला मातोंडकर (Urmila Matondkar) ने संसद के शीतकालीन सत्र न बुलाने को लेकर किया ट्वीट

खास बातें

  • सरकार ने लिया शीतकालीन सत्र न बुलाने का फैसला
  • एक्ट्रेस उर्मिला मातोंडकर ने किया ट्वीट
  • उर्मिला मातोंडकर ने कहा चुनाव हुए और रैलियां हुईं…

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस महामारी के कारण सरकार ने इस वर्ष संसद का शीतकालीन सत्र (Winter Session) न बुलाने का फैसला किया है. इस बात को लेकर विपक्ष द्वारा भी विरोध किया गया. वहीं, हाल ही में शीतकालीन सत्र के न होने पर बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस उर्मिला मातोंडकर (Urmila Matondkar) ने भी ट्वीट कया है, जिसमें उन्होंने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि एक राज्य का चुनाव हुआ, इस दौरान कई बड़ी रैलियां भी की गईं. शीतकालीन सत्र को लेकर उर्मिला मातोंडकर का ट्वीट खूब वायरल हो रहा है, साथ ही सोशल मीडिया यूजर उर्मिला मातोंडकर के ट्वीट पर खूब कमेंट भी कर रहे हैं. 

यह भी पढ़ें

Newsbeep

उर्मिला मातोंडकर (Urmila Matondkar) ने शीतकालीन सत्र न बुलाए जाने पर ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने लिखा, “एक राज्य का चुनाव हुआ, बड़ी बड़ी रैलियां भी उसी वक्त की गईं. पूरा देश फिर से खुल चुका है, संसद के अलावा. जहां कानूनों को सभी दलों से परामर्श लिये बिना ही लाद दिया जाता है. वास्तव में लोकतंत्र है…” बता दें कि शीतकालीन सत्र को लेकर संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीररंजन चौधरी को पत्र लिखकर बताया है कि सभी दलों के नेताओं से चर्चा के बाद आम राय बनी थी कि COVID-19 महामारी के चलते सत्र नहीं बुलाया जाना चाहिए. खत में लिखा गया है कि संसद का बजट सत्र जनवरी, 2021 में आहूत किया जाएगा.

वहीं, दूसरी और कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी चाहते थे कि संसद का सत्र बुलाया जाना चाहिए, ताकि किसानों से जुड़े मुद्दों पर चर्चा हो सके तथा कानूनों में संशोधन किया जा सके. खत में प्रह्लाद जोशी ने अधीररंजन चौधरी द्वारा लोकसभा स्पीकर को लिखे खत का हवाला देते हुए कहा कि मॉनसून सत्र में भी विलम्ब हुआ था, क्योंकि कोरोना महामारी की वजह से हालात असाधारण थे. वहीं, उर्मिला मातोंडकर (Urmila Matondkar) की बात करें तो हाल ही में एक्ट्रेस शिवसेना दल की सदस्य बनी हैं. इसके अलावा उर्मिला मातोंडकर अपने बेबाक विचारों के लिए भी खूब जानी जाती हैं. 

 



Source by [author_name]

सरकार ने लिया शीतकालीन सत्र न बुलाने का फैसला तो उर्मिला मातोंडकर बोलीं- देश खुल चुका है सिवाय संसद के, जहां…

सरकार ने लिया शीतकालीन सत्र न बुलाने का फैसला तो उर्मिला मातोंडकर बोलीं- देश खुल चुका है सिवाय संसद के, जहां...

उर्मिला मातोंडकर (Urmila Matondkar) ने संसद के शीतकालीन सत्र न बुलाने को लेकर किया ट्वीट

खास बातें

  • सरकार ने लिया शीतकालीन सत्र न बुलाने का फैसला
  • एक्ट्रेस उर्मिला मातोंडकर ने किया ट्वीट
  • उर्मिला मातोंडकर ने कहा चुनाव हुए और रैलियां हुईं…

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस महामारी के कारण सरकार ने इस वर्ष संसद का शीतकालीन सत्र (Winter Session) न बुलाने का फैसला किया है. इस बात को लेकर विपक्ष द्वारा भी विरोध किया गया. वहीं, हाल ही में शीतकालीन सत्र के न होने पर बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस उर्मिला मातोंडकर (Urmila Matondkar) ने भी ट्वीट कया है, जिसमें उन्होंने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि एक राज्य का चुनाव हुआ, इस दौरान कई बड़ी रैलियां भी की गईं. शीतकालीन सत्र को लेकर उर्मिला मातोंडकर का ट्वीट खूब वायरल हो रहा है, साथ ही सोशल मीडिया यूजर उर्मिला मातोंडकर के ट्वीट पर खूब कमेंट भी कर रहे हैं. 

यह भी पढ़ें

Newsbeep

उर्मिला मातोंडकर (Urmila Matondkar) ने शीतकालीन सत्र न बुलाए जाने पर ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने लिखा, “एक राज्य का चुनाव हुआ, बड़ी बड़ी रैलियां भी उसी वक्त की गईं. पूरा देश फिर से खुल चुका है, संसद के अलावा. जहां कानूनों को सभी दलों से परामर्श लिये बिना ही लाद दिया जाता है. वास्तव में लोकतंत्र है…” बता दें कि शीतकालीन सत्र को लेकर संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीररंजन चौधरी को पत्र लिखकर बताया है कि सभी दलों के नेताओं से चर्चा के बाद आम राय बनी थी कि COVID-19 महामारी के चलते सत्र नहीं बुलाया जाना चाहिए. खत में लिखा गया है कि संसद का बजट सत्र जनवरी, 2021 में आहूत किया जाएगा.

वहीं, दूसरी और कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी चाहते थे कि संसद का सत्र बुलाया जाना चाहिए, ताकि किसानों से जुड़े मुद्दों पर चर्चा हो सके तथा कानूनों में संशोधन किया जा सके. खत में प्रह्लाद जोशी ने अधीररंजन चौधरी द्वारा लोकसभा स्पीकर को लिखे खत का हवाला देते हुए कहा कि मॉनसून सत्र में भी विलम्ब हुआ था, क्योंकि कोरोना महामारी की वजह से हालात असाधारण थे. वहीं, उर्मिला मातोंडकर (Urmila Matondkar) की बात करें तो हाल ही में एक्ट्रेस शिवसेना दल की सदस्य बनी हैं. इसके अलावा उर्मिला मातोंडकर अपने बेबाक विचारों के लिए भी खूब जानी जाती हैं. 

 



Source by [author_name]

Leave a Comment

close