Bollywood News

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी ने हाल ही में अपने ब्लॉग में रखे

नवाब सिद्दीकी ने बंगले को लिखा यह बात

नई दिल्ली :

नवीन सिद्दीकी ने खुद को स्थापित किया है। इस समूह के बारे में बात करते हैं। अब वे बॉलिवुड का जाना-हाथाना चेहरा है, और फिल्मों से लेकर ऊटीटी जगत में अपनी टैटिंग का स्तोरा चाची है। कुआन समय लेने वाले हे में मुंबई में अपना एक आती बंगला बानाया था और इसे लेकर वह सुर्खियों में भी रहरे थे। हाल ही में नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी को इस तरह रहने दिया गया था।

यह भी आगे

इस बातचीत से बातचीत में ये कहा गया है, ‘आज के समय में मेरा व्यक्तित्व है, मैं अपने घर में हूं। जब मैं मुंबई आया, तो मैं एक चोटी सी जोगह में रहो, जिसमेन मेरे सेथ दुसरे एक्टर रिहा करने के बाद, जो सोरर्शर रहरे थे। वो कमरे में अच्छी तरह से फिट होता है। हम पृथ्वी पर. अपने कमरे में रखने के लिए शेयर करें। फिर दो लोगों के साथ और 2005 के बाद भी खराब हो सकती हैं।’

हाल ही में मुंबई में अपना खुद का एक अलीना बंगला है। ये बंगला भी शादी करता है और भव्यता की बैठक करता है। नवदीन ने इस घर को अपने पिता का नाम दिया है। पिता के नाम पर उनके वंशज का नाम ‘नवाब’ – है। नवाबुद्दीन सिद्दीकी, नवाजुद्दीन सिद्दीकी के पिता का नाम है। नयी दिल्ली, 1999 में बॉलीवुड से सर्फ़रोश कर दी थी। कामयाबी के लिए. पीप लाइव, वार्टीस ऑफ वापुर, लीट वैट, कि बैरंगी जान, बज़ौरी भाऊ ने वारिस के रूप में सेट किया था।

.

Source link

नवाब सिद्दीकी ने बंगले को लिखा यह बात

नई दिल्ली :

नवीन सिद्दीकी ने खुद को स्थापित किया है। इस समूह के बारे में बात करते हैं। अब वे बॉलिवुड का जाना-हाथाना चेहरा है, और फिल्मों से लेकर ऊटीटी जगत में अपनी टैटिंग का स्तोरा चाची है। कुआन समय लेने वाले हे में मुंबई में अपना एक आती बंगला बानाया था और इसे लेकर वह सुर्खियों में भी रहरे थे। हाल ही में नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी को इस तरह रहने दिया गया था।

यह भी आगे

इस बातचीत से बातचीत में ये कहा गया है, ‘आज के समय में मेरा व्यक्तित्व है, मैं अपने घर में हूं। जब मैं मुंबई आया, तो मैं एक चोटी सी जोगह में रहो, जिसमेन मेरे सेथ दुसरे एक्टर रिहा करने के बाद, जो सोरर्शर रहरे थे। वो कमरे में अच्छी तरह से फिट होता है। हम पृथ्वी पर. अपने कमरे में रखने के लिए शेयर करें। फिर दो लोगों के साथ और 2005 के बाद भी खराब हो सकती हैं।’

हाल ही में मुंबई में अपना खुद का एक अलीना बंगला है। ये बंगला भी शादी करता है और भव्यता की बैठक करता है। नवदीन ने इस घर को अपने पिता का नाम दिया है। पिता के नाम पर उनके वंशज का नाम ‘नवाब’ – है। नवाबुद्दीन सिद्दीकी, नवाजुद्दीन सिद्दीकी के पिता का नाम है। नयी दिल्ली, 1999 में बॉलीवुड से सर्फ़रोश कर दी थी। कामयाबी के लिए. पीप लाइव, वार्टीस ऑफ वापुर, लीट वैट, कि बैरंगी जान, बज़ौरी भाऊ ने वारिस के रूप में सेट किया था।

.

Source link

Leave a Comment

close