तमन्ना भाटिया और विराट कोहली को केरल HC ने ऑनलाइन रमी गेम से जुड़े मामले में भेजा नोटिस

तमन्ना भाटिया और विराट कोहली को केरल HC ने ऑनलाइन रमी गेम से जुड़े मामले में भेजा नोटिस

तमन्ना भाटिया (Tamannaah) और विराट कोहली (Virat Kohli)

नई दिल्ली:

केरल उच्च न्यायालय ने उस याचिका पर एक्ट्रेस तमन्ना भाटिया (Tamannaah), भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और राज्य सरकार को बुधवार को नोटिस जारी किये, जिसमें राज्य में ऑनलाइन जुआ पर प्रतिबंध लगाने का अनुरोध किया गया है. मुख्य न्यायाधीश एस मणिकुमार की अध्यक्षता वाली एक खंडपीठ ने कोहली के अलावा मलयालम अभिनेता अजु वर्गीज और दक्षिण भारतीय अभिनेत्री तमन्ना भाटिया को भी नोटिस जारी किये. ये तीनों हस्तियां ऑनलाइन रमी गेम की ब्रांड एम्बेसडर हैं.

यह भी पढ़ें

किसानों को लेकर आया बॉलीवुड एक्टर का ट्वीट, लिखा-100 से ज्यादा किसान शहीद हो चुके हैं पर…

याचिकाकर्ता पाउली वडक्कन ने आरोप लगाया कि राज्य में ऑनलाइन जुए का खतरा बढ़ता जा रहा है और सबसे पहले इनके शिकार मध्यम और निम्न आय वर्ग के लोग होते हैं जो आसानी से पैसा कमाना चाहते हैं. याचिकाकर्ता ने कहा कि राज्य भर में कई ऐसे मामले सामने आए हैं जिनमें लोगों ने घोटाला किया है. तिरुवनंतपुरम जिले के कट्टकडा के रहने वाले 28 वर्षीय एक व्यक्ति के हाल में कथित तौर पर आत्महत्या करने का जिक्र करते हुए याचिकाकर्ता ने कहा कि यह व्यक्ति ऑनलाइन रमी गेम के जाल में फंस गया और वह 21 लाख रुपये का कर्जदार हो गया.

Newsbeep

टाइगर श्रॉफ ने तिरंगे को हाथ में लिए यूं दिखाए स्टंट, बार-बार देखा जा रहा एक्टर का Video

See also  रेड ड्रेस में निया शर्मा की ग्लैमरस अदाओं ने लूटा फैन्स का दिल, Photos शेयर कर बोलीं- अघोरी...

याचिका में कहा गया है कि विराट कोहली (Virat Kohli), तमन्ना भाटिया (Tamannaah) और वर्गीज सहित मशहूर हस्तियों के समर्थन वाले ये मंच अपने दर्शकों को कथित झूठे वादों से आकर्षित करते हैं, जबकि वास्तव में इस तरह की जीत की संभावना किसी के लिए भी कम है, इस प्रकार ऐसे गेम लोगों को मूर्ख बनाते है. याचिका में कानूनों को बनाकर ऐसे ऑनलाइन गैंबलिंग गेम पर रोक लगाने या नियमित करने का अनुरोध किया गया है, जिन्हें मोबाइल फोन, कंप्यूटर, लैपटॉप और अन्य संचार उपकरणों सहित इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग करके ऑनलाइन आयोजित किया जाता हैं.



Source by [author_name]

Leave a Comment

close