ग्रेटा थनबर्ग ने किया ट्वीट, बोलीं- आप लोकतंत्र का सम्मान नहीं कर सकते तो…

ग्रेटा थनबर्ग ने किया ट्वीट, बोलीं- आप लोकतंत्र का सम्मान नहीं कर सकते तो...

ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) का ट्वीट हुआ वायरल

नई दिल्ली:

पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन की दिशा में काम करने वाली ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) सोशल मीडिया पर खासी एक्टिव हैं. बीते दिनों उन्होंने भारत में चल रहे किसान आंदोलन (Farmers Protest) को समर्थन करते हुए एक ट्वीट किया था, जिसने खूब ध्यान खींचा था. सोशल मीडिया पर यूजर्स ने भी उनके ट्वीट पर जमकर रिएक्शन दिए. ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) ने अब फिर से एक ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने विज्ञान और लोकतंत्र के आपस में जुड़े रहने की बात बताई है. उनका ट्वीट खूब पढ़ा जा रहा है.

यह भी पढ़ें

ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) ने ट्वीट किया: “विज्ञान और लोकतंत्र दृढ़ता से जुड़े हुए हैं. क्योंकि ये दोनों बोलने की आजादी, स्वतंत्रता, तथ्यों और पारदर्शिता पर निर्मित हैं. यदि आप लोकतंत्र का सम्मान नहीं करते हैं, तो संभवतः आप विज्ञान का सम्मान नहीं करेंगे.और यदि आप विज्ञान का सम्मान नहीं करते हैं तो आप शायद आप सम्मान नहीं पाएंगे.” ग्रेटा थनबर्ग ने इस तरह लोकतंत्र में बोलने की आजादी का मुद्दा उठाया.  ग्रेटा थनबर्ग के इस ट्वीट को मशहूर एक्टर  प्रकाश राज (Prakash Raj) ने भी लाइक किया है.

Newsbeep

बता दें कि ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) के किसान आंदोलन पर ट्वीट को लेकर दिल्‍ली पुलिस ने उनके खिलाफ केस दर्ज किया था, इसमें आपराधिक साजिश और समूहों में दुश्‍मनी फैलाने का आरोप लगाया गया था. हालांकि केस दर्ज होने के कुछ ही देर बार ग्रेटा ने फिर से ट्वीट किया और लिखा था: “मैं अब भी किसानों के समर्थन में खड़ी हूं और नफरत, धमकी या मानवाधिकारों का उल्‍लंघन इसे नहीं बदल सकता.”

See also  सोनाली फोगाट ने Sapna Choudhary के 'घुंघरू' सॉन्ग पर किया शानदार डांस, देखें Video

बता दें कि ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) ने अपने पहले ट्वीट में लिखा था कि हम भारत में चल रहे किसान आंदोलन के साथ एकजुटता से खड़े हैं. उनके इी ट्वीट पर जमकर हंगामा हुआ था. यही नहीं, अमेरिकी पॉप सिंगर रिहाना और एक्ट्रेस मिया खलीफा ने भी किसान आंदोलन को लेकर ट्वीट किए थे. जिसके भारतीय हस्तियों ने इनके ट्वीट को प्रोपेगैंडा बताया था.



Source by [author_name]

Leave a Comment

close