किसानों को लेकर आया बॉलीवुड एक्टर का ट्वीट, लिखा-100 से ज्यादा किसान शहीद हो चुके हैं पर…

किसानों को लेकर आया बॉलीवुड एक्टर का ट्वीट, लिखा-100 से ज्यादा किसान शहीद हो चुके हैं पर...

सुशांत सिंह (Sushant Singh) का ट्वीट हुआ वायरल

नई दिल्ली:

गणतंत्र दिवस के मौके पर कृषक संगठनों की केन्द्र के तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग के पक्ष में हजारों की संख्या में किसानों ने ट्रैक्टर परेड निकाली थी, लेकिन कुछ ही देर में दिल्ली की सड़कों पर अराजकता फैल गई. कई जगह प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के अवरोधकों को तोड़ दिया, पुलिस के साथ झड़प की, वाहनों में तोड़ फोड़ की और लाल किले पर एक धार्मिक ध्वज लगा दिया था. अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली पुलिस ने किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के संबंध में अभी तक 22 प्राथमिकियां दर्ज की हैं. हिंसा में 300 से अधिक पुलिस कर्मी घायल हो गए थे. इस खबर पर पूरे देश से रिएक्शन आ रहे हैं. अब बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह (Sushant Singh) ने ट्वीट किया है.

यह भी पढ़ें

मौनी रॉय ने खूबसूरत अंदाज में गाया ‘सारे जहां से अच्छा’ गीत, बार-बार देखा जा रहा है Video

सुशांत सिंह (Sushant Singh) ने एक यूजर के ट्वीट पर रिएक्शन देते हुए लिखा: “सौ, जी हां एक-सौ से ज्यादा किसान शहीद हो चुके हैं अब तक. पर वो हिंसा नहीं है. कुछ कानून आए प्राकृत रूप से, और उनकी वजह से मरने वालों की प्राकृत मौत हो गई. इसे हिंसा नहीं कहते. किसने कहा था कि लड़ो और मरो, जिंदा रहने के लिए?” सुशांत सिंह ने इस तरह ट्वीट के जरिए अपनी नाराजगी जाहिर की है. उनके इस ट्वीट पर जमकर रिएक्शन आ रहे हैं.

Newsbeep

कैटरीना कैफ ने घर की छत पर लगाई छलांग, तो आलिया भट्ट दांत से नाखून काटती आईं नजर- देखें Photos

See also  Antim First Poster: सलमान और आयुष की 'अंतिम' का पोस्टर हुआ रिलीज तो फैन्स बोले- राधे और दबंग 3 से अच्छा...

बता दें कि गणतंत्र दिवस के मौके पर हुई हिंसा को लेकर उच्चतम न्यायालय में बुधवार को एक याचिका दाखिल की गई, जिसमें गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा की जांच के लिए एक आयोग के गठन का अनुरोध किया गया है. याचिका में हिंसा के लिए और 26 जनवरी को राष्ट्रीय ध्वज के अपमान के लिए जिम्मेदार लोगों अथवा संगठनों के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज करने के संबंधित अधिकारियों को निर्देश देने का भी अनुरोध किया गया है.



Source by [author_name]

Leave a Comment

close