Bollywood News

उम्रदराज कपूर का गाना ‘ओ मेरी चांदनी’ पर दादाजी ने मैरिज किया, वीडियो देखने के लिए खुश-प्रसन्न की कोई उम्र नहीं होगी।

ने ‘ओ मेरी चांदनी’ पर प्रकाश डाला

:

मीडिया पर प्रसारित होने वाले प्रसारित होने वाले टीवी चैनल के अभिनेता परिवार के प्रशंसक अभिनेता ‘ओ मेरी चांदनी’ के गाने थे। स्टोर के लिए हैं। मौसम और आंखों की रोशनी आंखों पर लगाती है। ️ दिख️ दिख️️️️️️️️️️️️️️️ इस वीडियो में यह वीडियो पढ़ने के लिए महत्वपूर्ण है। वीडियो में आगे बढ़ने के लिए दादाजी का विजय खरोटे है और यह नया नाम ही है।

प्रोफ़ाइल में वीडियो पोस्ट किया गया है। कई में टैन टैन ने संगीत दिया है। पर 65 के लिए वरदान हैं। कई rairे rurcur यूज ने किए हैं हैं हैं हैं हैं हैं। पर्यावरण ने लिखा है, दादाजी को देख कर लग रहा है, खुश रहने की कोई भी उम्र नहीं होगी। पत्र लिखा, . ने है, दादाजी।

यह गाना ‘रंगजल से बाद में के बाद से’ 1989 में फिल्म “चांदनी” का है। संगीत वाले शिव हैं हरे और को, उन्होंने लिखा और लिखा है। को पत्नियां और ऋषि कपूर पर फिल्माया गया था।

मैं

ने ‘ओ मेरी चांदनी’ पर प्रकाश डाला

:

मीडिया पर प्रसारित होने वाले प्रसारित होने वाले टीवी चैनल के अभिनेता परिवार के प्रशंसक अभिनेता ‘ओ मेरी चांदनी’ के गाने थे। स्टोर के लिए हैं। मौसम और आंखों की रोशनी आंखों पर लगाती है। ️ दिख️ दिख️️️️️️️️️️️️️️️ इस वीडियो में यह वीडियो पढ़ने के लिए महत्वपूर्ण है। वीडियो में आगे बढ़ने के लिए दादाजी का विजय खरोटे है और यह नया नाम ही है।

प्रोफ़ाइल में वीडियो पोस्ट किया गया है। कई में टैन टैन ने संगीत दिया है। पर 65 के लिए वरदान हैं। कई rairे rurcur यूज ने किए हैं हैं हैं हैं हैं हैं। पर्यावरण ने लिखा है, दादाजी को देख कर लग रहा है, खुश रहने की कोई भी उम्र नहीं होगी। पत्र लिखा, . ने है, दादाजी।

यह गाना ‘रंगजल से बाद में के बाद से’ 1989 में फिल्म “चांदनी” का है। संगीत वाले शिव हैं हरे और को, उन्होंने लिखा और लिखा है। को पत्नियां और ऋषि कपूर पर फिल्माया गया था।

मैं

Leave a Comment

close